jakhu

शिमला के जाखू में भरी हिमपात के बाद यंहा रहने वाले लोगों को बिजली-पानी की समस्या से जूझना पड़ रहा हैl तक़रीबन दो फुट बर्फ पड़ने से यंहा पर कई पेड़ गिर गए जिससे यंहा की बिजली के तारें टूट गयी हैl यंहा पर रहने वाले लोगों ने बताया की उन्होंने बिजली विभाग से इस बारे में बात की थी और ओर इससे जल्द से जल्द दुरुस्त करने के लिए कहा था पर उन्होंने कम से कम तीन दिन तक का समय माँगा थाl पर सवाल यह उठता है की क्या शिमला प्रशासन जो की बड़ी बड़ी प्राकृतिक आपदाओं से निपटने का दम भर्ती है क्या दो फुट बर्फ गिरने के बाद उत्पन हुए समस्यायों से निपटने के लिए तीन से चार दिन का समय लेती है? इसी सिलसिले में जाखू के कुछ लोग डिप्टी मेयर टिकेंदर पंवार से भी मिले और उन्हें अपनी समस्यायों से अवगत करवायाl

बिजली की समस्या के साथ साथ यंहा पर पानी के नल भी जम गए हैl ज्यादा बर्फ होने से यंहा पर आज भी सड़कों पर बर्फ है जिसकी वजह से यंहा पर ज़रूरी चीजों की आपूर्ति नहीं हो पा रही हैl दूध जैसी अन्य उपयोगी चीजों के लिए जाखू निवासिओं को शिमला के मुख्य बाज़ार आना पड़ रहा हैl

जाखू के साथ साथ कई दूसरी जगह जैसे फागली में भी लोगो को बिलजी की समस्या से जूझना पड़ रहा है और प्रशासन सिर्फ कोरी बातें ही करता रहता हैl वैसे फागली में तो ज्यादा बर्फ की भी समस्या नहीं है तो फिर शिमला प्रशासन अभी तक क्यों यंहा पर बिजली की सुविधा को सुचारू नहीं कर पाया है?

हालाँकि हिमाचल प्रशासन अपने आप को ऐसी आपदाओं से निपटने के लिए अपनी तैयारिया प्रयुक्त बताता है पर अगर शिमला जो की प्रदेश का मुख्यालय भी है ऐसी समस्यायों से जूझ रहा है तो दूर दराज़ के गाँव जंहा पर तीन फुट से ज्यादा बर्फ गिरी है न जाने क्या हाल होगाl

Bahra University

jakhu