केंद्रीय गृह मंत्री का आरएसएस विरोधी बयान दूषित मानसिकता का नतीजा: भाजपा

64

हिमाचल प्रदेश भारतीय जनता पार्टी ने केंद्रीय गृह मंत्री सुशिल कुमार शिंदे द्वारा जयपुर के कांग्रेस चिंतन बैठक में दिए गए उस व्यक्तव्य की कड़े शब्दों में निंदा की है जिसमे शिंदे ने भाजपा एवं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर अपने शिविर पर आतंकवादी प्रशिक्षण देने की बात कही थीl

प्रदेश पार्टी प्रवक्ता गणेश दत्त ने कहा की सुशिल शिंदे का यह बयान राष्ट्रवादी ताकतों के विरुद्द उनकी दूषित मानसिकता को दर्शाता है तथा हिन्दू विरोधी तुष्टिकरण की नीति को प्रदर्शित करती हैl गणेश दत्त ने कहा की यदि शिंदे अफज़ल गुरु को फांसी ना दिए जाने एवं अकबरुदीन ओबेसि द्वारा दिए गए वक्तव्य पर कांग्रेस की नीति को सपष्ट करते तो अच्छा रहता लेकिन कांग्रेस पार्टी अपने इस विरोधी ताकतों को संरक्षण देने एवं उन्हें पोषित करने पर बुरी तरह एक्सपोस हो गयी है इसीलिए शिंदे ने भाजपा एवं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ जैसे राष्ट्रभक्त ताकतों को बैठक में निशाना बनायाl

भाजपा प्रवक्ता ने उन् सभी कांग्रेस नेताओं से आग्रह किया है की वे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ व् भारतीय जनता पार्टी के शिविरों में आकर पार्टी की विचारधारा एवं कार्यप्रणाली पर प्रशिक्षण ले तब जाकर संगठन और पार्टी के बारे में टिप्पणी करेंl पार्टी प्रवक्ता ने कहा की शिंदे के इस तरह के बयान से कांग्रेस की ही फजीहत हुई हैl पार्टी प्रवक्ता ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी और शिंदे को इस बयान पर माफ़ी मांगे को कहा हैl

प्रवक्ता ने कांग्रेस पार्टी को आरएसएस की राष्ट्रभक्ति को स्मरण करवाते हुए कहा की 1962 के युद्ध में दुश्मन को हराने के लिए आरएसएस ने मतवपूर्ण भूमिका निभायी थी और इसी लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु ने संघ की एक टुकड़ी को 1963 के गणतंत्र दिवस परेड में आमंत्रित किया थाl येही नहीं 1971 के भारत पाकिस्तान युद्ध के दोरान घायल सेनिकों की देख रेख तथा उनके लिए रक्त का इंतजाम भी आरएसएस ने किया थाl paty प्रवक्ता ने कहा की vaise तो आरएसएस और भाजपा को कांग्रेस से किसी भे तरह के प्रमाण पात्र लेने की ज़रूरत नहीं है लेकिन देश में शासन करने वाली पार्टी के घटिया बयानों का उत्तर देना अपना दायित्व समझती हैl