Bahra University

2020-21 के चालू वित्त वर्ष के पहले आठ माह में देश में एफडीआई का प्रवाह 37 प्रतिशत बढ़ा

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफ़ेयर्स राज्यमंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने मोदी सरकार की प्रभावी आर्थिक नीतियों से 2020-21 के चालू वित्त वर्ष के पहले आठ माह में देश में एफडीआई का प्रवाह 37 प्रतिशत बढ़कर 43.85 अरब डॉलर के पार जाने पर हर्ष व्यक्त किया है व इन सुधारों से निकट भविष्य में दोहरे अंक की विकास दर हासिल करने की उम्मीद जताई है।

अनुराग ठाकुर ने दवा किया की कोरोना आपदा जैसे कठिन समय में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व व मार्गदर्शन में भारतीय अर्थव्यवस्था तेज़ी से पटरी पर लौट रही है। अनुराग ठाकुर ने कहा “मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को रफ़्तार देने के के लिए हर आवश्यक कदम उठाए हैं और प्रभावी व साहसिक आर्थिक नीतियों के चलते ही 2020-21 के चालू वित्त वर्ष के पहले आठ के दौरान कुल एफडीआई (पुन: निवेश की गई आय सहित) 22 प्रतिशत बढ़कर 58.37 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। एफडीआई इक्विटी प्रवाह चालू वित्त वर्ष के पहले आठ में 43.85 अरब डॉलर रहा है। यह किसी वित्त वर्ष के पहले आठ माह का सबसे ऊंचा आंकड़ा है। पिछले वित्त 2019-20 के पहले आठ की तुलना में यह 37 प्रतिशत अधिक है। इससे पिछले वित्त वर्ष के पहले आठ माह में देश में 32.11 अरब डॉलर का एफडीआई आया था।पिछले वित्त 2019-20 के पहले आठ की तुलना में यह 37 प्रतिशत अधिक है। सरकार ने एफडीआई नीति सुधारों के मोर्चे पर जो कदम उठाए हैं, उनसे देश में विदेशी निवेश का प्रवाह बढ़ाने में मदद मिली है”

आगे बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश की अर्थव्यवस्था लगातार मजबूत बनी हुई है। और विदेशी निवेशकों ने लगातार भारत पर अपना भरोसा बनाए रखा है l भारतीय शेयर बाजारों में 2020 के दौरान विदेशी संस्थागत निवेशकों (फॉरेन इंस्टीट्यूटशल इन्वेस्टमेंट,एफआईआई) से 23 अरब डॉलर से ज्यादा का निवेश मिला जो कि उभरते बाजारों में सबसे ज्यादा है। साल 2020 में जनवरी से दिसंबर तक एफआईआई ने भारतीय इक्विटी बाजार में कुल 1.6 लाख करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश किया। यह लगातार दूसरा साल है जबकि उभरते बाजारों के बीच भारतीय शेयर बाजारों में सबसे ज्यादा एफआईआई निवेश हुआ।2019 की तुलना में यह 63 हजार करोड़ रुपए ज्यादा है l