शिमला: युवा कांग्रेस नेता और शिमला ग्रामीण विधायक विक्रमादित्य सिंह ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि वह अपनी राजनैतिक महत्वाकांक्षा के चलते प्रदेश में कोरोना महामारी फैलाने में लगें है। प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए विक्रमादित्य ने आरोप लगाया कि भाजपा नेता संक्रमित होते हुए बड़ी जनसभाओं में जा कर लोगों को इसकी चपेट में ला रहें है, जो बहुत ही गम्भीर और चिंता का विषय है।

विक्रमादित्य सिंह ने बंजार के भाजपा के विधायक सुरेंद्र शौरी के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद अटल टनल के उदघाटन समारोह में जाने पर हैरानी जताते हुए कहा कि शौरी ने जानबूझकर अपने संक्रमण को छिपाया जोकि कोविड 19 के नियमों के सीधी उल्लंघना तो है ही साथ में कानून की भी अवहेलना है । इसके लिए उन पर पुलिस मामला दर्ज किया जाना चाहिए।

शिमला में मीडिया को संबोधित किया । सहीं का स्वागत , और ग़लत का विरोध हम करते रहेंगे ,जनता की आवाज़ हम उठाते रहेंगे। विक्रमादित्य सिंह विधायक 

Posted by Vikramaditya Singh on Tuesday, 6 October 2020

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि जबकि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भी शौरी के संक्रमित होने की जानकारी अटल टनल के उदघाटन से पूर्व ही मिल गई थी, ऐसे में इसे छिपाना बहुत ही गम्भीर विषय है।उन्होंने कहा कि इस समारोह में देश के प्रधानमंत्री के अतिरिक्त देश के गृह मंत्री, विधायक,अति वशिष्ट अधिकारीगण के साथ हजारों लोग शामिल हुए और विधायक शौरी इस दौरान इन सभी लोगों से मिले है।ऐसे में इन सब पर भी इस संक्रमण का खतरा पैदा हो गया है।

विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि शौरी के संक्रमित होने की बात क्यों छिपाई गई, मुख्यमंत्री इसका खुलासा करें। उन्होंने कहा कि समारोह के बाद मुख्यमंत्री तो होम क्वारन्टीन हो गए है पर उनके सम्पर्क में कितने लोग आए है,इसकी भी पूरी जानकारी जुटाई जानी चाहिए, जिससे समय रहते किसी भी संभावित खतरे से बचा जा सकें।उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाते हुए कहा है कि जब अति वशिष्ठ लोगों के साथ ही कोविड 19 के नियमों की अवहेलना की जा रही है तो आम लोगों का क्या हो रहा है,यह सब राम भरोसे ही लगता है।