विपक्ष और स्थानिया लोगो ने प्रशासन को लचर व्यवस्था के लिए लताड़ा

85

प्रदेश में हाल ही में हुए भारी हिमपात के कारण आज चोथे दिन भी जिला शिमला के ज्यादातर क्षेत्रों में प्रशासन सड़कें, रास्तें और बिजली की आपूर्ति बहाल करने में नाकाम रही हैl चोपाल, ठयोग, कोटखाई, रोहरू, नारकंडा, टिककर और थानाधार आज भी बाहरी क्षेत्रों से कटा हुआ हैl स्थानीय लोगो ने प्रशासन की लाचारी पर रोष व्यक्त करते हुए कहा की प्रशासन को सिर्फ बड़ी बड़ी बातें ही करनी आती है पर जब उन्हें अमल में लाना पड़ता है तो बोनी साबित होती हैl

वंही विपक्ष में बैठी भाजपा ने भी इस मुड़े पर कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की कांग्रेस की सरकार सिर्फ ख़बरों में ही सड़क, रास्तें और बिजली की आपूर्ति बहाल करने के आदेश दे रही हैl भाजपा ने कहा की हिमपात के बाद लोगों को रोज़मर्रा की ज़रूरी चीजों के लिए कई किलोमीटर तक पैदल ही जाना पड़ रहा हैl लचर व्यवस्था के चलते मरीजों को अस्पताल लाना मुश्किल हो रहा हैl भाजपा नेताओं ने दावा किया की उनकी सरकार के समय कभी भी इस तरह की बदहाली नहीं हुई, और सरकार ने समय पर ही सारे ज़रूरी इंतजाम करके ऐसी स्थिति से निपटने के लिए पहले ही अहतियात कर लेती थीl भाजपा ने मांग की है की प्रशासन जल्द ही हिमपात प्रभावित इलाकों में यातायात और बिजली की आपूर्ति बहाल करें ताकि आम जनता को रहत मिल सकेंl