पूर्व बागवानी मंत्री व् भाजपा के वरिष्ठ नेता नरेंद्र बरागटा ने फल एवम् सब्ज़ी मंडी परवाणु में बागवानों को मुलभुत सुविधाओ से वंचित रखने पर प्रदेश सरकार को जिम्मेवार ठहराया है।

नरेंद्र बरागटा ने आरोप लगाया की पिछले कल जब वे परवाणु मंडी गए वहा पर भारी संख्या में बागवान उनसे मिले और कहा की मंडी में पेयजल, बिजली और शौचालय जैसी मुलभुत सुविधाये भी उपलब्ध नहीं है। पूर्व भाजपा सरकार के समय इस मंडी को शुरू किया गया था किन्तु आज मंडी में सुविधाओ का भारी आभाव है और किसानो बागवानों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया की मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने किसानो और व्यापारियो के लिए पार्किंग, किसान भवन और मज़दूरों के होस्टल का केवल शिलान्यास किया और पिछले चार वर्षो के कार्यकाल में कांग्रेस सरकार इन योजनाओ और सुविधाओ का निर्माण कार्य करने में असफल रही है।

नरेंद्र बरागटा ने कहा की बागवानों की सुविधाओ को लेकर सरकार उदासीन है और परवाणु मंडी में बागवानों को मुलभुत सुविधाओ से वंचित रखा गया है जिसके कारण मज़बूरन बागवानों को दूसरे राज्यो की मंडियो में अपने उत्पाद बेचने जाना पड़ता है।

पूर्व मंत्री ने मांग की है की प्रदेश सरकार बागवानों के हित में लंबित पड़ी योजनाओ की क्रियान्वित करे जिसका लाभ किसानो बागवानों को मिले और भाजपा सरकार के समय में शुरू की गयी परवाणु मंडी का सफल सञ्चालन सुनिश्चित हो सके।

नरेंद्र बरागटा ने कहा की प्रदेश की सभी मंडियो के हालात खराब है और सेब सीजन में बागवानों को सुविधा देने के सरकार के सभी दावे हवा हवाई साबित हुए है। भाजपा सरकार के समय के समय फल एवम् सब्ज़ी मंडियो का विस्तार प्रदेश के अंदर किया गया था और बागवानों व्यापारियो को सुविधाए दी गई थी जिससे प्रदेश का बागवान बाहरी राज्यो में लूटने से बचा था वही प्रदेश की वर्तमान सरकार की उपेक्षा के कारण बागवान अपने आप को ठगा हुआ महसूस कर रहा है।

Previous articleGovt to plant one crore saplings in a year: CM announces
Next articlePrepared to dissolve, HLP options BJP, AAP
Rahul Bhandari is Editor of TheNewsHimachal and has been part of the digital world for last 15 years.