राजधानी शिमला से सटे प्रसिद पर्यटन स्थल हसन वैली में एक बार फिर रिशतों की कड़वाहट ने एक मासुम की जान ले लीl हसन वैली के साथ लगते जंगल ने 23 वर्षीय युवती की लाश को कफन भी नसीब नही होता और उसकी मौत का रहस्य कभी सुलझ नही पाता यदि उसके पति ने अपना जुर्म स्वय न कबूल लिया होता। मामला पंजाब से सटे बनूर का हैए बनूर में रहने वाली विवाहित युवती 5 अक्तुबर से लापता थी। शक के अधार पर पंजाब पुलिस ने जब जांच की तो पति ने अपना जुर्म कबुल करते हुए बताया कि उसने अपनी पत्नी की हत्या कर शव को हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के पर्यटन स्थल हसन वैली के जंगल में दबा दिया था।

पति के निशान देहि पर पंजाब और हिमाचल पुलिस के दल ने युवती की लाश को छराबड़ा से 200 मी0 की दूरी पर दबा पाया। गोरतलब है कि पिछले कुछ वर्षो से प्रदेश में अपराधिक मामलों में इजाफा हुआ है पड़ोसी राज्यों से आने वाले अपराधिक छवि के लोग बेखोफ अपने नापाक इरादो को अनजाम देकर असानी से राज्य से बाहर चले जाते है।सुबे में आए दिन मिलती हुइ लाशों से ये बात साफ होती है कि बाहरी राज्यों के अपराधि अपने अपराध छुपाने के लिए हिमाचल के पर्यटन स्थलों को डम्पींग साइट की तरह इस्तेमाल कर रहे है और प्रशासन मूक दर्शक बना हुआ है।

Previous articleDrupal Camp to promote open source tech amongst IT students in Dharamshala
Next articleWho is reaping the benefits of BPL status?
Rahul Bhandari is Editor of TheNewsHimachal and has been part of the digital world for last 15 years.