तम्बाकू उन्मूल्न कार्यक्रम को लागू करने के लिए कोटपा अधिनियम कारगर

70

शिमला: तम्बाकू उन्मूल्न कार्यक्रम को लागू करने व युवा पीढ़ी को इसके सेवान से बचाने के लिए कोटपा अधिनियम काफी कारगर साबित हो रहा है । अतिरिक्त उपायुक्त डी.डी. शर्मा ने आज तम्बाकू नियन्त्रण समिति की बैठक में यह बात कही ।

उन्होंने कहा कि कोटपा अधिनियम को लागू करने में पुलिस की भूमिका काफी अहम रही है । बैठक में उपसिथत सभी अधिकारियों को इस नियम को कड़ार्इ से लागू करने के निर्देश भी दिए ।

उन्होंने बताया कि कोटपा अधिनियम को लेकर विभिन्न विभागाध्यक्षों के साथ बैठक कर विभिन्न जगह पर इसकी सिथति के बारे में चर्चा की जाएगी । उन्होंने कहा कि हर सार्वजनिक स्थान पर नो स्मोकिंग के बोर्ड लगने अनिर्वाय है व शिक्षा संस्थान के 100 गज के दायरे में तम्बाकू उत्पाद न बेचा जाए, सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान करने वाले के खिलाफ सख्त कार्यवाही हो । सम्बनिधत विभागों के अधिकारियों को उन्होंने इन सब निर्देशों को सुनिशिचत करने के आदेश दिए ।एच.पी. वी.एच.ए. द्वारा सर्वेक्षण रिपोर्ट ललित शर्मा द्वारा प्रस्तुत की गयी। बैठक में स्वास्थ्य पुलिस, जिला कल्याण विभाग के अधिकारी व कर्मचारी उपसिथत थे।