एंटी रेगिंग कानून के प्रावधान का हो ज्यादा प्रचार

18

अमन कचरू ट्रस्ट और राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के माध्यम से आज इंदिरा गाँधी आयुर्विज्ञान संस्थान में सम्पूर्ण स्वास्थ्य और विद्यार्थी विषय पर राज्यव्यापी अभियान का आरम्भ किया गयाl

इस अवसर पर अपने संबोधन में स्वास्थ्य मंद्ती ठाकुर कॉल सिंह ने कहा कि शिक्षण संस्थानों में रेगिंग रोकने के लिए बने कानून के प्रावधानों का व्यापक प्रचार होना चाहिए ताकि प्रभावशाली और मेधावी बच्चे बेखोफ अपनी शिक्षा तथा जीवन के उद्देश्य को पूरा कर सकेl उन्होंने कहा कि प्रभावशाली विद्यार्थी न केवल परिजनों को बल्कि पुरे देश की ऐसी निधि है जिनकी उपयोगिता से पूरा समाज प्रभावित होता हैl उन्होंने कहा कि इस अभियान के माध्यम से राज्य में स्थित विभिन विश्यविद्यालय में सम्पूर्ण स्वस्थ्य के बारे में जानकारी दी जायेगी और यह भी बताया जायेगा कि रेगिंग, नशा और दूसरी बुराईयाँ विद्यार्थियों के लिए घातक हैl इन् बुराईयों की चपेट में आकर विद्यार्थी न केवल अपना नुक्सान करते है बल्कि समाज को भी पीछे की और धकेलते हैl उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस अभियान से जुड़कर विद्यार्थी योग, सामाजिक आध्यात्मिक, मानसिक और बौधिक विकास से जुड़ सकेगाl

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि चिकित्सक के लिए मरीज़ की सेवा सबसे बड़ा धर्म है और उन्हें यह अपना सौभाग्य समझना चाहिए की उन्हें समाज की सेवा करने का अवसर मिला हैl ठाकुर कौल सिंह ने कहा की सरकार स्वास्थ्य विभाग में हर स्तर पर आवश्यक भर्तियाँ कर रही हैl चिकित्सा के पदों से लेकर मेडिकल स्टाफ के खाली पदों को भरा जा रहा हैl उन्होंने बताया की राष्ट्रीय ग्रामीण स्वस्थ्य सेवाओं पर व्यय किए जायेंगे जिसे स्वास्थ्य सेवा में निश्चित तौर पर सुधार होगाl इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री ने एंटी रेगिंग रूल्स एंड रेगुलेशन तथा होलिस्टिक हेल्थ एंड स्टूडेंट्स पर बुकलेट तथा पोस्टर भी जारी कियाl

इस अवसर पर डॉक्टर जयश्री शर्मा ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए मेडिकल कॉलेज टांडा के विद्यार्थी स्वर्गीय अमन कचरू को याद किरते हुये प्रदेश सरकार द्वारा स्थापित किये गए ट्रस्ट के बारे में बतायाl

इस अवसर पर मुख्या सचिव सुदृप्त रॉय, हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के कुलपति एडीएन वाजपेयी, प्रधान सचिव अली रज़ा रिज़वी के अतिरिक्त वरिष्ट चिकित्सक व् अन्य अधिकारी सहित मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थी मौजूद थेl