प्रदेश सरकार ने शिमला शहर के लालपानी में तैयार हो रही क्रिकेट अकादमी पर जांच बिठा दी है और इस जाँच को आठ बिंदुओं पर केंद्रित किया हैl

जाँच के आधार पर सरकार प्रशासन से जानना चाहती है कि जहां पर यह अकादमी बन रही है उसका लैंड यूज क्या है। किस उद्देश्य के लिए जमीन खरीदी गई है। क्या यहां पर अकादमी ने कोई अतिक्रमण तो नहीं किया है। अकादमी ने जितनी जमीन खरीदी है क्या वह सारी की सारी उपयोग हुई है या उसमें से कितनी बची हुई है। वहां पर पेड़ कितने हैं, क्या अकादमी की स्थापना को लेकर पंचायत को कोई आपत्ति तो नहीं है।

शिमला के उपायुक्त दिनेश मल्होत्रा ने जांच का जिम्मा एडीएम लॉ एंड आर्डर डीके रत्न को सौंपा है, जो की अपनी रिपोर्ट 15-20 दिन के भीतर सरकार को सोपेंगे।

पूर्व भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान वर्ष 2011 में एचपीसीए के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने इस अकादमी की आधारशिला रखी थी, जिसमे आउटडोर और इंडोर पिचों का निर्माण करके इस क्षेत्र के खिलाडि़यों को आधुनिक सुविधाएँ प्रदान कर उनकी प्रतिभा को निखारने था।

Previous articleGovt invites applications for Sehejdhari (Pakistan) pilgrims
Next articleBJP expresses dissatisfaction over the CM’s reply over Budget, stages walkout
The News Himachal seeks to cover the entire demographic of the state, going from grass root panchayati level institutions to top echelons of the state. Our website hopes to be a source not just for news, but also a resource and a gateway for happenings in Himachal.