अधिक से अधिक युवाओं को स्वरोजगार प्रशिक्षण मिलें: डी.डी.शर्मा

51

शिमला: यूको ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान शिमला जिला शिमला के दुर्गम क्षेत्रों में बेरोजगार युवाओं व महिलाओं को अपनी आजीविका कमाने के लिए अधिक से अधिक युवाओं को प्रशिक्षण देना सुनिशिचत करें। आज उपायुक्त कार्यालय में बैक की ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान की स्थानीय सलाहकार समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए अतिरिक्त उपायुक्त डी.डी.शर्मा ने अधिकारियों से कहा किया कि वे स्वरोजगार प्रदान करने की दृषिट से चलाये जा रहे कार्यक्रमों की जानकारी निर्धारित समय अवधि में ब्लाक विकास अधिकारी को दी जानी चाहिए ताकि समय रहते पात्र बेरोजगार युवा व महिलायें प्रशिक्षण प्राप्त करके अपनी आर्थिकी में सुधार ला सके । उन्होंने कहा कि ग्रामीण परिवेश पर आधारित रोजगार प्रशिक्षण कार्यक्रम बनायें जिसमें प्रशिक्षित युवाओं के लिए रोजगार सुनिशिचत हो सके।

निदेशक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान जे.सी.शांडिल ने बताया कि ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान द्वारा सितम्बर माह तक 147 विभिन्न श्रेणियों के बेरोजगारों को विभिन्न प्रकार के रोजगार सृजन प्रशिक्षण कार्यक्रमों द्वारा प्रशिक्षित किया गया। प्रशिक्षुओं में 68 पुरूष 79 महिलाएं, 28 अनुसूचित जातिजनजातिअल्पसंख्यक वर्ग, 56 बी.पी.एल., 91 एपीएल जबकि सामान्य वर्ग के 119 बेरोजगारों को स्वरोजगार सृजन हेतु प्रशिक्षित किया गया ।

बैठक में परियोजना निदेशक डीआरडीए, उपनिदेशक बागवानी, जिला समन्व्यक नेहरू युवा केंद्र के अतिरिक्त विभिन्न विभागों व बैंक के अधिकारी भी उपसिथत थे ।