आगामी लोकसभा चुनावों के दृष्टिगत निर्वाचन आयोग विभाग द्वारा शिमला, सिरमौर, सोलन और किन्नौर जिलों के अधिकारीयों के लिए परिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गयाl इस अवसर पर अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी ड़ी के रत्न ने कहा की चुनाव प्रजातंत्र को मजबूत करने की सबसे महतवपूर्ण कड़ी हैl

उन्होंने कहा की मतदाता सूचियाँ इस प्रक्रिया का आधार है इसलिए आवश्यक है की मतदाता सूचियाँ बिलकुल सही बनेl उन्होंने कहा की चार दिवसीय परिक्षण कार्यशाला के द्वारा अधिकारीयों को चुनाव प्रक्रिया से सम्बंधित नयी जानकारियां मिलेगी जिससे आने वाले समय में इस कार्य को और बेहतर ढंग से संचालित किया जा सकेगाl

इस अवसर पर सहायक मुख्या निर्वाचन अधिकारी अशोक तोमर ने चार दिवसीय कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी दी और बताया की प्रतिभागियों को इस दौरान निर्वाचन पंजीकरण के कानूनी और प्रशासनिक पहलुओं, मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण, दावे तथा आपतियों के अलावा नयी तकनीक के बारे में भी जानकारी दी जायेगीl एस डी एम् सोलन तथा तहसीलदार निर्वाचन पियूष शर्मा ने भी निर्वाचन से सम्बंधित जानकारी दीl

कार्यशाला में शिमला, सिरमौर, सोलन और किन्नौर के एस ड़ी एम्, तहसीलदार, नायब तहसीलदार चुनाव तथा निर्वाचन कननूगो ने भी भाग लियाl

Previous articleCongress asks Dhumal to explain the “public interest” behind making HPCA a company from a society
Next articleHP Private Bus Operators’ delegates meet CM, urges to increase bus fair
The News Himachal seeks to cover the entire demographic of the state, going from grass root panchayati level institutions to top echelons of the state. Our website hopes to be a source not just for news, but also a resource and a gateway for happenings in Himachal.