मुख्यमंत्री का कांगड़ा शीतकालीन प्रवास सफल: सुधीर शर्मा

60

शहरी विकास, नगर एवं ग्राम नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के कांगड़ा जिला के शीतकालीन प्रवास सफल करार दिया। मंत्री ने कहा की जहां पर असंख्य लोगों द्वारा मुख्यमंत्री के समक्ष अपनी समस्याओं का रखकर उसका निदान पाया, वहीं पर कांगड़ा जिला के लिये मुख्यमंत्री द्वारा अनेक घोषणाएं करके विकास को और गति प्रदान की गईl

सुधीर शर्मा ने कहा की मात्र दो माह के कार्यकाल के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा धर्मशाला शहर के लिये 21 करोड़ रूपये की पेयजल योजना स्वीकृत करके इस कार्यान्वयन आरम्भ कर दिया है, जोकि प्रदेश में अपनी किस्म की पहली हाईटैक पेयजल योजना होगी तथा इससे शहर तथा आसपास के गांवों की लगभग 50 हजार की आवादी लाभान्वित होगी।

ज्वाली क्षेत्र के लोगों की चिरकालीन मांग के मध्यनज़र नगरोटा सूरियां के लिये डिग्री कालेज तथा कोटला के लिये उप-तहसील खोलने की बात मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने कही हैl

मुख्यमंत्री द्वारा नेशनल हाइवे पर आपातकालीन चिकित्सा सुविधाओं को सुदृढ़ करने के दृष्टिगत सिविल अस्पताल नूरपुर में ट्रामा केन्द्र स्थापित करने तथा अस्पताल को 100 बिस्तरों वाले अस्पताल के रूप में विकसित करने का वादा कियाl

शहरी विकास मंत्री ने कहा की मुख्यमंत्री ने पालमपुर प्रवास के दौरान कांगड़ा चाय उद्योग को पुनर्जीवित करने के लिये केन्द्र से विशेष पैकेज़ स्वीकृत करवाने का आश्वासन दिया ताकि इस उद्योग को बड़े पैमाने पर विकसित किया जा सके तथा क्षेत्र के चाय उत्पादकों को राहत प्रदान की जा सके

सुधीर शर्मा के कहा की वीरभद्र सिंह ने यूपीए सरकार में केन्द्रीय मंत्री रहते हुए कांगड़ा जिला के लिये केन्द्रीय विश्वविद्यालय व राष्ट्रीय फैशन प्रोद्योगिकी संस्थान, मण्डी के लिये आईआईटी संस्थान स्वीकृत करवाया गया, जोकि एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। इसके अतिरिक्त श्री वीरभद्र सिंह द्वारा ही निचले क्षेत्र के लोगों को अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने के लिये वर्ष 1997 में मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए टाण्डा मैडिकल कालेज आरम्भ किया गया था तथा इस अस्पताल को एम्ज़ स्तर का बनाने के लिये केन्द्र से 125 करोड़ रूपये की धनराशि स्वीकृत की गई है